फेसबुक ने पीआर फर्म डिफायनर्स से नाता तोड़ा, जकरबर्ग बोले- इसकी जानकारी नहीं थी

फेसबुक ने पीआर फर्म डिफायनर्स से नाता तोड़ा, जकरबर्ग बोले- इसकी जानकारी नहीं थी

  • फेसबुक पर डिफायनर्स के जरिए एपल, गूगल का दुष्प्रचार करने का आरोप
  • न्यूयॉर्क टाइम्स की रिपोर्ट में बुधवार को यह आरोप सामने आए थे
  • जकरबर्ग ने गुरुवार को डिफायनर्स से कॉन्ट्रैक्ट खत्म करने का ऐलान किया

Headlines 7 News

हर खबर पर पैनी नजर

सैन फ्रांसिस्को. फेसबुक ने पीआर फर्म डिफायनर्स से कॉन्ट्रैक्ट खत्म कर दिया है। कंपनी के सीईओ मार्क जकरबर्ग ने गुरुवार को इसका ऐलान किया। सीएनएन के मुताबिक जकरबर्ग ने कहा कि उन्हें न्यूयॉर्क टाइम्स (एनवाईटी) के आर्टिकल के जरिए ही यह पता चला कि उनकी कंपनी डिफायनर्स के साथ काम कर रही है। जकरबर्ग बोले, “पता चलते ही मैंने अपनी टीम से फोन पर बात की और अब हम डिफायनर्स के साथ काम नहीं कर रहे हैं।” जकरबर्ग का कहना है कि यह पता लगाया जाएगा कि उनकी कंपनी ने डिफायनर्स जैसी किसी और फर्म के साथ तो काम नहीं किया।

 

डिफायनर्स ने एपल, गूगल के खिलाफ आर्टिकल लिखे: रिपोर्ट

एनवाईटी की रिपोर्ट में बुधवार को कहा गया था कि एपल और गूगल के खिलाफ लिखने के लिए फेसबुक ने अमेरिकी पीआर फर्म डिफायनर्स पब्लिक अफेयर्स से कॉन्ट्रैक्ट किया था। डिफानर्स ने फेसबुक के विवादों पर  पर्दा डाला था। रिपोर्ट के मुताबिक जकरबर्ग ने अपने कर्मचारियों से आईफोन का इस्तेमाल नहीं करने के लिए भी कहा है।

 

न्यूयॉर्क टाइम्स की रिपोर्ट में कहा गया कि एफबी ने डिफायनर्स के जरिए यह बात फैलाई कि एंटी फेसबुक मूवमेंट बढ़ने के पीछे निवेशक और सामाजिक कार्यकर्ता जॉर्ज सोरोस का हाथ था। इस पर जकरबर्ग का कहना है कि वो सोरोस का सम्मान करते हैं।

 

डिफायनर्स से संबंध मीडिया तक सीमित थे: फेसबुक
फेसबुक ने न्यूयॉर्क टाइम्स के इस दावे को गलत बताया कि उसने अपनी तरफ से डिफायनर्स से आर्टिकल लिखवाए। उसका कहना है कि डिफायनर्स से संबंध सिर्फ मीडिया तक सीमित थे। डिफायनर्स ने कंपनी के लिए कई बार प्रेस कॉन्फ्रेंस आयोजित की थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.